सोनिया गाँधी और अरविन्द केजरीवाल !!

नववर्ष की पूर्व संध्या पर सोनिया गाँधी ने बुखार और लूज मोशन से पीड़ित
अरविन्द केजरीवाल को फोन लगाया….!!

अरविन्द:– हेल्लो…कौन ?

सोनिया:– मैं हूँ कांग्रेस प्रेसिडेंट सोनिया गाँधी
तुम्हे नए साल की शुभकामनाएँ देने के लिए फोन किया है!!

अरविन्द:– कांग्रेस!! नो, नो… मुझे नहीं चाहिए आपका समर्थन!
आय मीन… आपकी शुभकामनाएँ!!
आप मोदीजी को दीजिए ना आपकी और उनकी पार्टी एक जैसी है!!

सोनिया:– उनको नहीं दे सकती बेटा! वो लोग सेकुलर नहीं हैं ना!!

अरविन्द:– तो हम सेकुलर हैं!!
तो क्या कांग्रेस के भाईबंद हैं? नो! नेवर!
और प्लीज… बेटा मत कहिये मुझे..!!
मैं आपका नहीं भारत माँ का बेटा हूँ!! भारत माता की जय!

सोनिया:– तुम तो नाराज़ हो गए…!!
भूल गए सलमान खुर्शीद ने क्या कहा था? मैं तो सारे देश की माँ हूँ!!

अरविन्द:– आपसे एक बेटा तो ठीक से पाला नहीं जाता!!
पूरे देश की माँ बनकर क्या करेंगी आप…?

सोनिया:– बेटे से याद आया…!!
तुम राहुल को भी कुछ सिखाओ ना!, आजकल तुम्हारा फैन हो गया है वो!!

अरविन्द:– मेरे फैन तो पूरे देश में हो गए हैं!!
तो क्या मैं सबको ट्यूशन पढाने लगूँ?
मैडम मैं दिल्ली का सीएम हूँ, मास्टर नहीं!
और प्लीज अब आप फोन रखिये.. मुझे जाना पड़ेगा…पेट में मरोड़ हो रही है!!

और इतना कहकर अरविन्द फोन रखकर बाथरूम की ओर भागे!!
दो मिनट बाद ही तौलिया लपेटते हुए लगभग दौड़ते हुए बाथरूम से निकले फोन उठाकर सोनिया गांधी के नंबर पर कॉलबैक कर के हाँफते हुए बोले– “मैडम प्लीज… हाथ जोड़कर विनती है कि दोबारा मुझे फोन मत करना… आपको शायद पता नहीं!! पर नितिन गडकरी के आदमी होटलों की लॉबियों से लेकर मोबाइल के नेटवर्क तक, हर जगह घुसे हुए हैं!! प्लीज… दोबारा मुझे फोन मत करना!!