दारू बाजों से अनुरोध है!!

दारू बाजों से अनुरोध है की वो ये न समझें…
की अभी तक उनकी रात की उतरी नहीं है!!
.
.
क्योकि….
.
.
ये झटके वास्तविक भूकंप के ही थे !! 😀