Haryanvi

जरूरी निवेदन! Haryanvi Student Jokes

सेवा में,
मुख्य अध्यापक जी,

श्रीमान जी,

बात नयुं ए कि इब श्कूल मा जी नई लगता अर रात ने नींद भी ना आती, दरअसल श्कूल में छोरियों की भारी कमी हो रही है, अर मारी क्लास मा तो छोरी है ही कोइनी, बाकी क्लासां मा जो थोड़ी बहुत हैं पूरी भूंडी शक्ल की हैं। देखने ने भी जी ना करता अर नखरे मेरी ससुरियों के आसमान ते ऊँचे सै। इस्ते अलावा कोई माषटरनी भी कोई ख़ास ना सै।

कुछ नी ते चार-पांच सुथरी सुथरी काम आली ही रख लियो।

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

आपका आज्ञाकारी बालक।