ये पढ़ाई-लिखायी!!

ये पढ़ाई-लिखायी,
नौकरी चाकरी,
घर बार दुकानदारी
पता नही किस नालायक का आईडिया था….

आराम से गुफ़ाओं में रहते, रात में सोते
कन्द मूल खाते और सुकून से मर जाते!!
😂😂😂😂😂😂😂😂😂🤘